यक़ीनन इस खबर के शीर्षक ने ही आपको चौंका दिया होगा तभी आप ये पढ़ रहे है | दरअसल हाल ही में आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा शहर में एक भिखारी में डेढ़ लाख का चाँदी का मुकुट भगवान् राम के मंदिर में दान किया है|

ये अपने आप में एक चौकाने वाली खबर इस लिए भी है क्योंकि जहाँ नोटबंदी के कारण लोगो का खर्चा-पानी चलाना मुश्किल हो रहा है और छोटी सी चीज़ लेने के लिए सौ बार सोचना पढ़ रहा है ऐसे में डेढ़ लाख का मुकुट वो भी दान कर देना सबको अचरज में दाल रहा है |

beggar-donates-1-5-lakhs-silver-mukut
Yahoo

जिस व्यक्ति ने ये मुकुट दान किया है उसका नाम यादिरेड्डी है जो की 75 वर्ष के है | वो तेलंगाना के नालगोंडा जिले से है | वो विजयवाड़ा तभी आ गए थे जब वो युवा थे | जब वो विजयवाड़ा आये तब उन्होंने बहुत से काम बदले और लगभग 5 सालो तक रिक्शा भी चलाया | पर जैसे ही उन्हें लगा की अब वो बूढ़े हो चले है और रिक्शा और नही चला सकते तब से उन्होंने भीख मांगना शुरू कर दिया | भीख मांगते हुए वह अपनी ज़रुरत से ज़्यादा कमाने लग गए, उनका परिवार नही था तो उन्होंने फैसला किया की वो अपनी बची हुई कमाई का हिस्सा धार्मिक कार्यो में लगाएंगे |

मुकुट दान करने के बारे में यादिरेड्डी ने कहा की वो भगवान में अटूट विश्वास रखते है और वो अभी तक इतनी कठिनाईयो का सामना इसलिए कर पाए क्योंकि भगवान ने उनका हर मोड़ पर साथ दिया अब वो जीवन के इस पड़ाव पर अपनी तरफ से भगवान को एक छोटी सी भेंट देना चाहते थे|