दिल्ली :  चीन ने एक बार पाकिस्तान का पक्ष लिया है इस बार चीन ने पठानकोट के हमले के मास्टर माइंड मसूद अजहर का बचाव करते हुए संयुक्त राष्ट्र संघ मे आवाज उठाई है चीन का कहना है कि मसूद अजहर कोई वैश्विक आतंकी नही है इसी के साथ चीन ने संयुक्त राष्ट्र संघ में प्रस्ताव रखा है कि मसूद अजहर कोई आतंकी नही है मसूद अजहर पर कोई प्रतिबन्ध नही होना चाहिए|

Masood-azhar
kashmirage.com

आखिर चीन ऐसा इस लिए चाहता है क्योंकि अमेरिका संयुक्त राष्ट्र में लगातार मसूद अज़हर को अंतरराष्ट्रीय आंतकी घोषित करने में लगा हुआ है लेकिन चीन इस बात को लगातार नकार रहा है| भारत पहले ही संयुक्त राष्ट्र मे मसूर अज़हर पर अंतरराष्ट्रीय आंतकवादी घोषित करने की मांग कर चूका है इस मे रूस भी भारत का समर्थन कर चूका है और अब अमेरिका भी इस रहा पर है|

चीन के इस रवैये से पता चलता है कि चीन पाकिस्तान के समर्थन मे खड़ा है हालाँकि फ्रांस, जर्मनी और ब्रिटेन भी इस मामले में भारत का ही समर्थन करता है लेकिन चीन के इरादे कुछ ओर ही दिखाई पड़ रहे है यह देखना दिलचस्प होगा कि मसूद अज़हर को अंतरराष्ट्रीय आंतकी घोषित किया जाता है या नही |