चेन्नई : शशिकला ने बुधवार शाम बैंगलोर की स्पेशल कोर्ट में सरेंडर कर दिया है| शशिकला पर बेहिसाब प्रॉपर्टी होने का इलज़ाम था इसी को मध्य नज़र में रखते हुए कोर्ट ने शशिकला को चार साल की सजा सुनाई है| शशिकला की मांग थी कि उसे ए क्लास की जेल में रखा जाए लेकिन कोर्ट ने शशिकला को ए क्लास की जेल में न रखते हुए अन्य दो कैदियों के साथ रखा गया है जहाँ शशिकला को मोमबती का काम करना होगा जिसके उन्हें हर रोज़ 50 रुपए मिलेंगे|

sasikala arreste

 

जयललिता की मौत के बाद शशिकला को तमिलनाडु की सी एम के लिए चुना जाना था| लेकिन शशिकला सीएम बनने से पहले ही विवादों से घिर गई| जिससे शशिकला के सीएम बनने का सपना तो चूर हुआ ही साथ में शशिकला को चार साल की जेल भी हो गई है| बैंगलोर जाने से पहले शशिकला जयललिता की समाधि पर गई और उन्हें 3 बार हाथ जोड़कर नमन किया| पार्टी से जुड़े लोगों का कहना है कि शशिकला ने शपथ ली की वह पार्टी के खिलाफ साजिश रच रहे लोगों से बदला लिया जायेगा|

जेल जाने से पहले शशिकला ने अपने भतीजे दिनाकरन को एआईएडीएमके का उप महासचिव बना दिया है जो अब पार्टी की देखरेख करेंगे| इस पर कुछ लोगों का कहना है कि शशिकला ने जेल जाने से पहले एक नया दांव खेल दिया है|